St. Francis of Assisi School - नाबालिग को ब्लैकमेल कर शोषण करने वाला शिक्षक पहुंचा जेल / Seoni News

St. Francis of Assisi School : नाबालिग को ब्लैकमेल कर शोषण करने वाला शिक्षक पहुंचा जेल / Seoni News

St. Francis of Assisi School : नाबालिग को ब्लैकमेल कर शोषण करने वाला शिक्षक पहुंचा जेल / Seoni News  A teacher who exploited a minor by blackmailing him to jail
सिवनी , 21 जून 2020 (NIN NEWS)| नगर के शैक्षणिक संस्थान सेंट फ्रांसिस असिसि स्कूल(St. Francis of Assisi School) के टीचर राजू जॉनी पर अपनी स्कूली छात्रा को अपनी हवस का शिकार बनाये जाने की घटना प्रकाश में आइ है यही नहीं पड़यंत्र पूर्वक बनाया गया बोडियो वायरल करने की धमकी मामले में विभिन्न धाराओं के तहत आरोपी टीचर को गिरफ्तार किया जाकर जेल भेजा गया है ।

जानकारी के अनुसार सेंट फ्रांसिस स्कूल में शिक्षकोय कार्य करने वाला राज जानो घर में ट्यूशन भी पढ़ाता था । जिसके पास पीड़िता छात्रा ट्यूशन पढ़ने जाती थी । उक्त दुष्कर्मी शिक्षक द्वारा सन 2016 से फरवरी 2018 के बीच झांसा देकर उसकी अस्मत से खिलवाड़ किया गया । उक्त नाबालिग बालिका पढ़ाई के लिए नागपुर चली गई , लेकिन फरवरी 2020 में वह 11 वी कक्षा की परीक्षा हेतु वापिस आई । जिस पर उसको पुनः ट्यूशन आने के लिए राजू जॉनी टीचर द्वारा दबाव बनाया गया ।

बताया गया है कि छात्रा ने ट्यूशन आने से इंकार किये जाने पर टीचर राजू द्वारा उसका धोखे से षड़यंत्रपूर्वक बनाया गया वीडियो वायरल करने की धमकी दी गई । जिससे छात्रा के होश उड़ गये । टीचर की धमकी से भयभीत छात्रा द्वारा डरते हुए अपने साथ पूर्व में घटित घटनाक्रम की जानकारी अपने  माता - पिता को दी गई । उक्त जानकारी से परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई कि वह कितने विश्वासपूर्वक अपने बच्चों को पढ़ने भेजते है ।

छात्रा के माता - पिता द्वारा इस बात को गंभीरता से लेते हुए सोचा कि ऐसे नराधम टीचर की असलियत सामने लाना जरूरी है , वरना वह न जाने और कितनो छात्राओं को जिंदगी तबाह कर सकता है । तत्संबंध में छात्रा के परिजनों द्वारा थाना कोतवाली में सेंट फ्रांसिस ६. ससि स्कूल के टीचर राजू जॉनी के विरुद्ध शिकायत दर्ज करवाई गयी ।

वहीं मामले की गंभीरता से लेते हुए पुलिस द्वारा आरोपी शिक्षक के विरूद्ध धारा 354 ( ख ) 376,376  ( 2 ) ( एम ) 376 ( 2 ) ( जे ) , 376 ( 3 ) , 342 , 566 भादवि एवं 3 , 4 , 5 ( एल ) 6 पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार करके न्यायालय के सम्मुख पेश किया गया । जहां से उसे जेल भेज दिया गया है ।

विडम्बना है कि शिक्षक जैसे गरिमापूर्ण पद को कतिपय शिक्षकों द्वारा धूल - धूसरित किया जा रहा है । ऐसे दुष्कर्मी शिक्षको की नापाक हरकतों पर बदनामी के डर से पर्दा डालने से उनके हौसले बुलंद होते ह । ऐने दुष्कर्म शिक्षक को असलियत साम आने तथा उन्हें दंड दिये जाने में औरों को सबक मिले ।
Previous Post Next Post