Jabalpur News : कृषि, उद्यानिकी एवं पशुपालन विभाग के कार्यों की कलेक्टर श्री भरत यादव ने की समीक्षा

Jabalpur News : कृषि, उद्यानिकी एवं पशुपालन विभाग के कार्यों की कलेक्टर श्री भरत यादव ने की समीक्षा

केन्द्र एवं राज्य शासन द्वारा घोषित पैकेज का किसानों को लाभ पहुंचाने के कार्य को दें प्राथमिकता—श्री यादव
कृषि, उद्यानिकी एवं पशुपालन विभाग के कार्यों की कलेक्टर ने की समीक्षा
Jabalpur News : कृषि, उद्यानिकी एवं पशुपालन विभाग के कार्यों की कलेक्टर श्री भरत यादव ने की समीक्षा


Jabalpur News

जबलपुर : कलेक्टर भरत यादव ने आज कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन एवं मत्स्य पालन विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए केन्द्र एवं राज्य शासन द्वारा घोषित पैकेज का किसानों एवं पशुपालकों तक प्राथमिकता से लाभ पहुंचाने के निर्देश दिये हैं । श्री यादव ने बैठक में कहा कि केन्द्र एवं राज्य शासन द्वारा घोषित पैकेज के बारे में विस्तृत दिशा-निर्देश जल्दी ही प्रापत हो जायेंगे ।  सभी अधिकारियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि इन पर त्वरित अमल हो और किसानों तक उनका लाभ पहुंचे ।
     श्री यादव ने बैठक में बाहर से आये जिले के मजदूरों को स्थानीय स्तर पर ही मनरेगा तथा कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन एवं मत्स्यपालन तथा अन्य गतिविधियों में रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये ।  उन्होंने कहा कि कोशिश होनी चाहिए कि इन मजदूरों को यहीं पर काम मिले ताकि रोजी-रोटी की तलाश में उन्हें बाहर न जाना पड़े और हमारी भी दूसरे जिलों के मजदूरों पर निर्भरता कम हो सके ।
     कलेक्टर ने बैठक में कृषि, उद्यानिकी एवं पशुपालन के क्षेत्र में नवाचारों को अपनाने पर भी जोर दिया ।  उन्होंने कहा कि नवाचारों के लिए बड़े किसानों और फार्म हाउस के मालिकों को प्रोत्साहित किया जाये और इस दिशा में उनके लिए संयुक्त प्रशिक्षण का आयोजन किया जाये ।  श्री यादव ने कहा कि फार्म हाउस एवं बड़े किसान नवाचार अपनाते हैं तो अन्य किसान भी इसके लिए प्रेरित होंगे ।  उन्होंने कम्बाइंड हार्वेस्टर की ड्राइविंग का प्रशिक्षण देने की बात भी कही ताकि पंजाब एवं दूसरे राज्यों पर जिले के किसानों को निर्भरता कम हो सके ।
कलेक्टर ने बैठक में कृषि से जुड़े सभी विभागों के कार्यालयों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का सख्ती से पालन कराने पर जोर दिया ।  उन्होंने कहा कि इन सभी विभागों के कार्यालयों में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के उपायों एवं गाइडलाइन पर सख्ती से अमल करना होगा ।

कलेकटर ने बैठक में इंटीग्रेटेड फार्मिंग को अपनाने के लिए भी किसानों को प्रेरित करने की बात कही । उन्होंने कहा कि बाहर से आये जिले के मजदूरों को उड़द कटाई के काम में भी लगाया जाये । श्री यादव ने स्वरोजगार योजनाओं के तहत कस्टम हायरिंग सेंटर के प्रकरण तैयार करने के निर्देश दिये ।  उन्होंने अधिक उपज लेने के लिए धान की बुआई में पेडी ट्रांसप्लाँटर मशीनों के इस्तेामाल के लिए तथा भूसा बनाने के लिए स्ट्रॉ रीपर का उपयोग करने के प्रति भी किसानों को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिये ।  श्री यादव ने बैठक में खाद-बीज की उपलब्धता, मत्स्य कृषकों को क्रेडिट कार्ड प्रदान करने के काम की समीक्षा भी बैठक में की ।

बैठक में जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा, उप संचालक कृषि डॉ. एस.के. निगम एवं संबंधित विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे ।

Post a Comment

Previous Post Next Post